Sarkari Yojana 2021: RSLDC की 3 नई कौशल योजनाएं लॉन्च

3
128

RSLDC की 3 नई कौशल योजनाएं लॉन्च – राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम की ओर से बुधवार को 3 नई कौशल योजनाओं की शुरुआत की गई। झालाना स्थित RSLDC के कार्यालय में कौशल रोजगार मंत्री अशोक चांदना ने इस मौके पर कहा कि कौशल प्रशिक्षण व उद्यमिता की महत्ता व बाजार की मांग व बदलते परिवेश को देखते हुए राज्य सरकार ने युवाओं के लिए नवीन कौशल कार्यक्रमों को शुरू करने का निर्णय लिया है।

Sarkari Yojana 2021

इस मौके पर RSLDC के अध्यक्ष डा. नीरज के पवन, RSLDC के प्रबंध निदेशक प्रदीप के गावंडे, महाप्रबंधक प्रथम करतार सिंह, महाप्रबंधक द्वितीय डा. सतीश मेहला, निगम के वित्तीय सलाहकार अतुल खंडेलवाल, उपमहाप्रबंधक प्रथम आरके जैन एवं उपमहाप्रबंधक तृतीय डा. मुक्ता अरोड़ा भी मौजूद थे। इस मौके पर नीरज के. पवन ने कहा कि ये नई योजनाएं समाज के सभी वर्गों को ध्यान में रखकर तैयार की गई हैं।

RSLDC की 3 नई कौशल योजनाएं

1. समर्थ

  • समर्थ योजना विशेष लक्षित समूह के लिए है।
  • इस योजना में विशेष योग्य जन, कारागारबन्दी, नारी निकेतन, किशोर गृह/बालिका गृह,
  • अनाथालय,ट्रांसजेण्डर, विधवा/ परित्यक्ता, अल्पसंख्यक और वंचित वर्ग के राज्य के निवासियों को शामिल किया गया है।
  • आयु सीमा 15 से 45 वर्ष है।
  • राज्य सरकार पोषित योजना है।
  • इसमें निशुल्क प्रशिक्षण की सुविधा।
  • इस योजना में 7 से 15 दिवस के प्रशिक्षण कार्यक्रम शामिल किए जाएंगे।
  • लाभार्थियों की मांग के अनुसार नए पाठयक्रमों को भी डिजाइन किया जाएगा।
  • दैनिक प्रशिक्षण अवधि न्यूनतम 2 घंटे प्रति दिवस से अधिकतम 6 घंटे प्रति दिवस होगा।

Also Read: 

  1. Best Medical College in India JNU – MBBS Tops Students 2021
  2. Bhartiya Rajmarg Samporn Sadak Parivahan

2. सक्षम

सक्षम योजना के तहत राज्य के समस्त युवा महिलाओं के लिए जो कौशल प्रशिक्षण प्राप्त कर अपना स्वयं का व्यवसाय या सामूहिक रुप से कोई स्वरोजगार गतिविधि करने के इच्छुक है, उनके लिए निगम की ओर से सक्षम योजना तैयार की गई है।

  • इसमें आयु सीमा 15 से 45 वर्ष है।
  • दैनिक प्रशिक्षण अवधि न्यूनतम 4 घंटे से अधिकतम 6 घंटे (गैर आवासीय) प्रति दिवस।
  • प्रशिक्षण के बाद कम से कम 50 प्रतिशत युवाओं को स्वरोजगार मिलेगा।
  • इसमें सामान्य पुरुष श्रेणी के लिए 400 रुपए एवं अन्य सभी श्रेणियों महिलाएं, एससी, एसटी, ओबीसी आदि के लिए 200 रुपए पंजीयन शुल्क है।

3. राजक्विक

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के बेरोजगार युवाओं को बाजार-प्रासंगिक कौशल का पर्याप्त प्रशिक्षण प्रदान करके रोजगार के अवसर प्रदान करना है।
  • इसका उद्देश्य राज्य के भीतर प्रतिभा के विकास के अवसर पैदा करना और अविकसित क्षेत्रों का सुधार एवं विकास करना है।
  • 36 आर्थिक सेक्टर में 328 पाठ्यक्रमों के तहत कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रमों की उपलब्धता होगी।
  • राज्य के युवा एवं महिलाएं इस योजना में शामिल हो सकते हैं।
  • प्रशिक्षण के बाद निजी क्षेत्र में रोजगार का प्रावधान रखा जाएगा।
  • प्रशिक्षण व्यावहारिक ज्ञान के लिए संबन्धित उपक्रम में ऑन जॉब ट्रेनिंग का प्रावधान रहेगा।
  • विशेष बात यह है कि इस योजना में स्कूल अथवा कॉलेज के नियमित छात्रों को शामिल नहीं किया जाएगा।

Also Read: 

  1. सेना के वीरता पुरस्कारों की घोषणा 2021- कीर्ति चक्र, वीर चक्र, शौर्य चक्र
  2. 4 Best Self-Improvement Tips in Hindi – खुद को बेहतर बनाने के 4 तरीके
  3. How to choose the right career after 12th? Best Tips 2021

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here